राष्ट्रीय अध्यक्ष बनकर जयपुर पहुंचे पूर्व ओलंपियन गोपाल सैनी का अभिनंदन

 


जयपुर। खेल के क्षेत्र में कार्य करने वाले राष्ट्रीय संगठन क्रीडा भारती की पुणे में आयोजित अखिल भारतीय नियामक मंडल की बैठक में अर्जुन अवार्डी धावक गोपाल सैनी को राष्ट्रीय अध्यक्ष मनोनीत किया गया है। राष्ट्रीय अध्यक्ष बनने के बाद वे शुक्रवार को पहली बार जयपुर पहुंचे। एयरपोर्ट पर क्रीडा भारती के कार्यकर्ताओं समेत खेल जगत से जुड़े लोगों ने उनका अभिनंदन किया। इससे पूर्व गोपाल सैनी क्रीडा भारती राजस्थान के प्रदेशाध्यक्ष व राष्ट्रीय उपाध्यक्ष भी रह चुके हैं।

उल्लेखनीय हैं कि पिछले दिनों कोरोना से क्रीडा भारती के राष्ट्रीय अध्यक्ष पूर्व क्रिकेटर चेतन चैहान के निधन के बाद गोपाल सैनी को राष्ट्रीय अध्यक्ष मनोनीत किया गया है। जहां शुक्रवार को एयरपोर्ट पहुंचने पर क्रीडा भारती के क्षेत्रीय संयोजक मेघसिंह, संरक्षक प्रकाशनारायण पारीक, प्रांत मंत्री अशोकवर्द्धन भार्गव, अर्जुन अवार्डी रमा पाण्डेय समेत कई खिलाडी मौजूद रहे। 

अर्जुन अवार्ड से हो चुके सम्मानित: 
वर्ष 1954 में जन्मे गोपाल सैनी पूर्व भारतीय मध्यम दूरी के धावक हैं। उनके नाम 3000 मीटर स्टीपलचेज में वर्तमान राष्ट्रीय रिकॉर्ड है। सैनी ने 5 जून 1981 को टोक्यो, जापान में 3000 मीटर स्टीपलचेज रिकॉर्ड 8 मिनट 30.88 सैकण्ड में बनाया था। वहीं 1980 में पुरुषों की 5000 मीटर दौड़ के लिए सोवियत संघ में 22 वें ओलम्पिक खेलों का प्रतिनिधित्व किया। उनकी इन उपलब्धियों के लिए उन्हें 1981 में अर्जुन पुरस्कार से सम्मानित किया जा चुका है। गोपाल सैनी वह एथलीट हैं जो मास्को ओलंपिक में नंगे पांव दौड़े। 1981 की टोक्यो एशियाई चैंपियनशिप में 5000 मीटर का स्वर्ण और 3000 मीटर स्टीपलचेज का रजत भी उन्होंने नंगे पैरों से जीता। बताया जाता है कि वह दुनिया के इकलौते एथलीटों होंगे जिन्होंने ताउम्र इतने सारे टूर्नामेंट नंगे पैर दौड़े। 

यह खबर भी पढ़े: किश्तवाड में पुलिस पार्टी पर आतंकी हमला, सब इंस्पेक्टर सहित दो घायल

From around the web