कुल्लू में ठगी मामले में चार आरोपी गिरफ्तार

 


कुल्लू। जिला में ठगी करने वाले एक गिरोह का पुलिस ने पर्दाफाश किया है। इस गिरोह द्वारा दर्जन भर लोगों को अपना शिकार बनाया गया है व आरोपियों द्वारा अपना जुर्म भी कबूल कर लिया गया है। यह गिरोह जाली सिम का कारोबार भी कर रहा था।     

ठगी करने वाले गिरोह का पर्दाफाश उस दौरान हुआ जब काइस में मीट विक्रेता को एक फोन आया व बताया कि वह दूर का रिश्तेदार है। उसे 20 किलोग्राम मीट चाहिये व कहा कि वह कहीं दूर है उसने कोरियर से सामान मंगवाया है। कृपया उसे 9500 रुपये देकर पार्सल ले लेना। उसी समय एक व्यक्ति आया व एक पार्सल देकर 9500 रुपये लेकर चला गया। बाद में पार्सल देखा तो एक लोहे का टुकड़ा पाया गया। रात के समय जब मीट विक्रेता ने जिस नम्बर से फोन आया था उसी नम्बर पर संपर्क करने की कोशिश की तो फोन बंद आया।    

मीट वाले ने इस बारे पुलिस को सूचित किया। पुलिस ने पाया कि ऐसी कई घटनाएं ठगी की हो चुकी हैं। पुलिस ने जांच के बाद पता चला कि इस गिरोह द्वारा बजौरा, शमशी, रायसन, रामशिला, अलेउ, कलेहली, कटराई, मनाली व छटनसेरी के करीब 13 लोगों से ठगी की है। 

पुलिस अधीक्षक गौरव सिंह ने बताया कि पुलिस ने ठगी मामले में आरोपी संजय सेन निवासी लरांकेलो, मनाली, राकेश कुमार निवासी झझर, सरकाघाट जिला मंडी, राम नाथ निवासी सुरु, मनाली व विक्रांत उर्फ बोनी निवासी दमशू, मनाली जिला कुल्लू के विरुद्ध मामला दर्ज कर आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तार किए गए आरोपी पूर्व में कई मामलों में संलिप्त हैं। आरोपी संजय सेन पर 1987 में हत्या के मामले में दोषी पाए जाने पर न्यायालय द्वारा सात साल की सजा सुनाई गई थी।

यह खबर भी पढ़े: देश के 3 प्रमुख वैक्सीन केन्द्रों का प्रधानमंत्री ने किया दौरा, कोरोना वैक्सीन के निर्माण के प्रगति के बारे में ली जानकारी

From around the web