जिफ के दूसरे दिन 25 देशों की 56 फिल्मों का ऑनलाइन प्रदर्शन

 


जयपुर। जयपुर इंटरेनशनल फिल्म फेस्टिवल (जिफ) के दूसरे दिन शनिवार को 25 देशों की 56 फिल्में ऑनलाइन दिखाई गई। इनमें भारत से 107 मिनट की पृत्वी कोनउर के निर्देशन में बनी वेहर इज पिंकी, बिशिख तालुकदार की तितली (129), विष्णु देव की स्माइल (77) और अविक रॉय की बंगाली फिल्म मास्टरमोसाई (121) हैं। चेक रिपब्लिक से दारिया, फ्रांस से द सांग ऑफ़ द सी, रशिया से हैप्पी बर्थडे, कोरिया से स्माइली जैसी फि़ल्में हैं।

डॉक्युमेंट्री  फीचर फिल्मों में भारत से इन्वेस्टिंग लाइफ और पाने चेक तथा ऑस्ट्रेलिया से ओसियन टू स्काई और अकेरिका से डायग्नोस्टिक हेल्थकेयर है। जिफ में 44 देशों की 266 फि़ल्में दिखाई जा रही है। विश्व भर की शार्ट और लॉन्ग स्टोरीज को हजारों फिल्म लवर्स और दर्शक रोजाना एन्जॉय कर रहे हैं। आज की फीचर फिक्शन फिल्मों में भारत से अनीश उरमबील ओटटचोडयम और अशोक नाथ की कांथी तथा ईरान से द रिवर्सड पथ, फ्रांस से फायर्स इन द डार्क, कनाडा से द कलर ऑफ़ स्प्रिंग, चायना से विद यू और टू चेयर इन द वार प्रमुख हैं, वहीं डाक्यूमेंट्री फीचर फिल्मों में नार्वे से ए बिहेवेव इन माय हार्ट, अमेरिका से द न्यू अबॉलीट्यूनिस्ट्स और भारत से द लास्ट ट्रायब प्रमुख हैं। राजस्थान से कामरान टाक  की शार्ट फिल्म  ‘सपोज’ और सुनील प्रसाद शर्मा की ‘तू छोड़ ना उम्मीदों का दामन’ सांग की ऑनलाइन स्क्रीनिंग रविवार को होगी।

फिल्मों को देखने के लिए दर्शकों के लिए यूएफओ के प्लेक्सिगो एप को डाउनलोड करना होगा। प्लेक्सिगो एप गूगल प्ले स्टोर या एप्पल प्ले स्टोर से डाउनलोड किया जा सकता है। फि़ल्में देखने के लिए रजिस्ट्रेशन अनिवार्य है। दर्शकों की अपील पर जिफ ने निर्णय किया है कि शुक्रवार वाली फि़ल्में अब 19 जनवरी तक कभी भी देखी जा सकती हैं, लेकिन आने वाली तारीख की फि़ल्में उसी तारीख से ही ऑनलाइन उपलब्ध होगी, लेकिन उसके बाद 19 जनवरी तक लाइव रहेगी।

यह खबर भी पढ़े: कौशल विवि की परीक्षाएं 15 फरवरी से, नए सत्र से लागू होगी पुनर्मूल्यांकन की व्यवस्था

From around the web