Birthday Special: मुंबई के मेट्रो सिनेमा में लगातार पांच वर्षों तक चली थी रमेश सिप्पी निर्देशित फिल्म 'शोले'

 


मुंबई। हिंदी फिल्म जगत के मशहूर निर्माता-निर्देशक रमेश सिप्पी आज 72 साल के हो गए हैं। रमेश सिप्पी का जन्म 23 जनवरी, 1947 को  हुआ था। उनके पिता गोपालदास परमानन्द सिप्पी भी फिल्मों के जानेमाने निर्माता-निर्देशक थे। पिता के नक्शे कदम पर चलते हुए रमेश ने भी फिल्मों में अपना करियर बनाया।बतौर निर्देशक रमेश सिप्पी की पहली फिल्म 'अंदाज'(1971 ) में रिलीज हुई। इस फिल्म में राजेश खन्ना, हेमा मालिनी और शम्मी कपूर मुख्य भूमिका में थे। फिल्म का एक गाना 'जिंदगी एक सफर है सुहाना' उस समय काफी मशहूर हुआ।

फिल्म ने बॉक्स ऑफिस पर सफलता के झंडे गाड़े और रमेश सिप्पी अपनी पहली ही फिल्म से फिल्म जगत में स्थापित हो गए। इसके बाद रमेश सिप्पी ने साल 1972 में हेमा मालिनी को लेकर फिल्म 'सीता और गीता' का निर्माण किया। नायिका प्रमुख यह फिल्म भी बॉक्स ऑफिस पर हिट रही। लगातार दो फिल्में हिट होने के बाद रमेश सिप्पी ने बड़ी भव्यता के साथ साल 1975 में फिल्म 'शोले' बनाई। यह फिल्म बॉक्स ऑफिस पर जबरदस्त हिट हुई इसके साथ ही यह फिल्म मुंबई के मेट्रो सिनेमा में लगातार 5 वर्षों तक चली। इसके बाद रमेश ने कई फिल्मों का निर्देशन  किया जिसमें शान, शक्ति, सागर, जमाना दीवाना, शिमला मिर्च  आदि शामिल हैं।

रमेश सिप्पी ने फिल्मों के निर्देशन के साथ ही क रमेश सिप्पी ने ब्रह्मचारी, बल्फमास्टर,चांदनी चौक टू चाइना, दम मारो दम आदि फिल्मों को प्रोड्यूस भी किया।

रमेश सिप्पी  फिल्मों के अलावा सोशल मीडिया पर भी काफी एक्टिव रहते हैं।सोशल मीडिया पर उनके फैन फ्लोइंग की संख्या लाखों में हैं।

From around the web