दो दोस्तों को आपस में मजाक करना पड़ा महंगा, दोनों की मौत

 


नई दिल्ली। शाहदरा जिले के गीता कॉलोनी इलाके में शनिवार को दो दोस्तों को आपस में मजाक करना काफी महंगा पड़ गया। तीसरी मंजिल की छत पर धूप में बैठे दोस्त एक दूसरे को गुदगुदी कर मजाक करने लगे। उसी दौरान दोनों का संतुलन बिगड़ा और वह नीचे बिल्डिंग अहाते में आ गिरे। दोनों के नीचे गिरते ही वहां अफरा-तफरी मच गई। फैक्टरी मालिक अन्य कर्मचारियों के साथ दोनों का नजदीकी गोयल नर्सिंग हो ले गए, जहां एक को तुरंत मृत घोषित कर दिया गया जबकि दूसरे ने कुछ ही देर बाद दम तोड़ दिया। 

मृतकों की शिनाख्त मोहम्मद शफीक अंसारी (36) और शकील अब्बास (46) के रूप में हुई है। दरअसल दोनों फैक्टरी की जिस छत पर मजाक कर रहे थे, उसकी बाउंड्री नहीं हुई थी। पुलिस ने दोनों के शव को पोस्टमार्टम के लिए सब्जी मंडी मोर्चरी भेज दिया है। लापरवाही का मामला दर्ज कर गीता कालोनी पुलिस मामले की छानबीन कर रही है।

पुलिस के मुताबिक शफीक और शकील दोनों ही परिवार के साथ गली नंबर-10, जनता मजदूर कालोनी, जाफराबाद में रहते थे। शफीक के परिवार में पिता शौकत अंसारी के अलावा पत्नी व बच्चे हैं वहीं शकील के परिवार में पत्नी और बच्चे हैं। दोनों पड़ोसी होने के साथ दोस्त थे और झील चौक के पास अशोक दुआ नामक शख्स की गारमेंट फैक्टरी में नौकरी करते थे। शनिवार दोनों ड्यूटी पर गए थे। दोपहर को दोनों ने लंच टाइम में साथ बैठकर खाना गया। इसके बाद धूप सेकने फैक्टरी की तीसरी मंजिल स्थित छत पर आ गए। फैक्टरी की छत की बाउंड्री नहीं हुई हुई है। दोपहर करीब 2.15 बजे दोनों छत पर ही एक दूसरे से मजाक करने लगे। इसी दौरान गुदगुदी करने के दौरान छत पर इधर-उधर भागे तो दोनों किनारे पर चले गए। इस बीच दोनों का संतुलन बिगड़ा और वह नीचे गिर गए। अशोक दुआ अन्य कर्मचारियों की मदद से दोनों को नजदीकी अस्पताल ले गए, जहां शफीक को मृत घोषित कर दिया गया जबकि इलाज के दौरान शकील ने कुछ ही देर में दम तोड़ दिया। पुलिस फैक्टरी के कर्मचारियों से पूछताछ कर मामले की छानबीन कर रही है। कर्मचारियों ने दोनों के मजाक करने की ही बात पुलिस को बताई है।

यह खबर भी पढ़े: तिरंगा रैली में उमड़ा जनसैलाब, भारत माता और श्रीराम के जयकारों की गूंज

From around the web