हैवानियत: 13 साल के लड़के का जबरन लिंग परिवर्तन कराकर 6 लोगों ने महीनों तक किया गलत काम, भीख मांगने पर किया मजबूर

 


नई दिल्ली। दिल्ली महिला आयोग ने बीते शुक्रवार को जारी एक बयान में बोला है कि दिल्ली में 13 वर्षीय लड़के का जबरन लिंग परिवर्तन का ऑपरेशन कराया गया। उसे हार्मोन बदलने की दवाईयां प्रदान की जाती थी। इसके बाद 6 लोगों ने उसके साथ महीनों तक गलत काम किया। इसके साथ ही उससे भीख भी मंगवाई गई। 

जानकारी के मुताबिक दिल्ली के गीता नगर कॉलोनी क्षेत्र में एक नाबालिह लड़के का चार वर्ष पहले कथित तौर पर लिंग परिवर्तन हेतु जबरन ऑपरेशन कराया गया एवं कुछ लोगों ने अनेक बार उसके साथ गंदा काम किया। 

दिल्ली महिला आयोग ने शुक्रवार को जारी एक बयान में यह सूचना प्रदान की। बयान में बोला गया है कि पीड़ित लड़के की कुछ लोगों से चार वर्ष पहले एक कार्यक्रम में मुलाकात हुई थी। वे लोग उस लड़के को डांस सिखाने तथा काम दिलाने के नाम पर मंडावली ले गए थे। 

इसमें बोला गया कि शुरुआत में उसने कुछ कार्यक्रमों में भाग लिया और इसके लिए उसे कुछ पैसे भी मिले, किंतु कुछ समय के पश्चात वे लोग उस पर दबाव बनाने लगे और कहने लगे कि वह अब उन्हें छोड़कर घर नहीं जा सकता तथा उसे उन्हीं लोगों संग मंडावली में ही रहना होगा। 

बयान में बोला गया कि लड़के को कथित तौर पर नशीला पदार्थ पिलाया गया और उसके साथ मारपीट की गई। लिंग परिवर्तन हेतु लड़के का जबरन ऑपरेशन कराया गया एवं उस समय वो मात्र 13 साल का था। लड़के के मुताबिक उसे हार्मोन्स की कुछ ऐसी दवाएं दी गईं जिससे वह लड़िकयों की तरह नजर आने लगे। बयान में कहा गया है कि आरोपियों ने लड़के से अनेक बार गलत काम किया तथा उससे भीख भी मंगवाई। 

बयान में यह भी बोला गया कि थोड़े माह के पश्चात उसके जानने वाले एक अन्य व्यक्ति को भी मंडावली लाया गया तथा उसे भी शारीरिक प्रताड़ना दी गई एवं गलत काम किया गया। आरोपी उसका भी ऑपरेशन कराने की फिराक में थे।  बयान में बोला गया कि पिछले वर्ष मार्च में लॉकडाउन के दौरान दोनों किसी तरह भागने में कामयाब रहे और लड़का अपनी मां के पास पहुंच गया। मां ने दोनों लोगों को किराए पर मकान लेकर दिया, किंतु आरोपी उनको खोजते हुए वहां भी पहुंच गए और उनके साथ मारपीट कर उन्हें वापस मंडावली ले गए। इसमें बोला गया कि आरोपियों ने फिर उनके साथ गंदा काम किया। 

बयान में बोला गया है कि दोनों कुछ दिनों के पश्चात बचकर निकल गए और नई दिल्ली रेलवे स्टेशन पहुंचे, जहां से एक वकील ने उन्हें दिल्ली महिला आयोग के दफ्तर में पहुंचाया। आयोग ने शीघ्र कार्रवाई करते हुए मामले में प्राथमिकी दर्ज कराई और पुलिस ने दो लोगों को गिरफ्तार भी किया है। पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि दिसंबर में मामला दर्ज कर दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

वहीं, दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल के मुताबिक यह स्तब्ध कर देने वाली और भयावह वारदात है। उन्होंने बोला कि पुलिस सभी आरोपियों को शीघ्र से शीघ्र गिरफ्तार कर सख्त से सख्त सजा दिलाए। 

यह खबर भी पढ़े: अभिनेत्री तापसी पन्नू फिल्म 'रश्मि रॉकेट' के आखिरी शेड्यूल को पूरा करने पहुंचीं भुज

From around the web