दिल्ली में फिर से लग सकता है lockdown ,सीएम केजरीवाल ने केंद्र को भेजा प्रस्ताव

 


नई दिल्ली। दिल्ली में कोरोना वायरस का कहर लगातार बढ़ता जा रहा है। इसी बीच दिल्ली सरकार ने केंद्र सरकार को एक प्रस्ताव भेजा है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल  ने इसे लेकर एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की और बताया कि हमने केंद्र सरकार को छोटे स्तर पर लॉकडाउन के लिए एक प्रस्ताव भेजा है। यह आंशिक लॉकडाउन होगा। 

इसके साथ ही सीएम केजरीवाल ने उन बाजारों को भी बंद करने की बात कही जहां कोरोना के मामले सामने आए हैं। दिल्ली में शादी समारोह में आने वाले लोगों की संख्या भी घटाई गई है। शादी समारोह में अब केवल 50 लोग ही शामिल हो सकते हैं। सीएम केजरीवाल ने कहा कि भीड़ बढ़ने पर या कोविड प्रोटोकॉल का पालन नहीं करने पर बाजार बंद कर दिए जाएंगे। 

सीएम केजरीवाल ने कहा कि ये प्रस्ताव एलजी साहब के पास मंजूरी के लिए भेजा गया है। उम्मीद है कि जल्द ही इस पर उनका अप्रूवल आ जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि दिवाली के समय कुछ बाजारों में लोगों ने कोविड प्रोटोकॉल का पालन नहीं किया जिसकी वजह से कोरोना तेजी से फैला है। हमने इसे लेकर केंद्र सरकार को प्रस्ताव को भेजा है कि अगर मामले बढ़ते हैं और कोई बाजार लोकल कोरोना हॉटस्पॉट बन सकता है तो उसे बंद किया जाए। 

इससे पहले स्वास्थ्य मंत्री ने कहा, 'लॉकडाउन की जरूरत नहीं'
इससे पहले स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा था कि तीसरी वेव का पीक ओवर हो चुका है इसलिए लॉकडाउन की जरूरत नहीं है। दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि दिल्ली की 29% जनता का हम टेस्ट कर चुके हैं। होम आइसोलेशन की वजह से केस नहीं बढ़ रहे हैं। दिल्ली में 16500 बेड कोरोना के लिए हैं। प्राइवेट अस्पतालों में बेड की थोड़ी दिक्कत है क्योंकि, सब प्राइवेट अस्पतालों में जा रहे हैं। 

बता दें कि दिल्ली (Delhi) में कोरोना (Coronavirus) संक्रमितों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। सोमवार को 24 घंटे में 3797 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हुए हैं और 99 लोगों की मौत हुई है। हालांकि, इतने ही समय में 3,560 लोग रिकवर हुए हैं।

यह खबर भी पढ़े: महबूबा ने अमित शाह पर किया पलटवार, कहा- आप सत्‍ता की भूख के लिए चाहे जितने गठबंधन करें तो ठीक, हम करें तो ऐंटी नैशनल?

From around the web