प्रेम करने की सजा मिली मौत

 


नई दिल्ली। आदर्श नगर इलाके में एक लड़की से प्यार करने की सजा एक युवक को अपनी जान गंवा कर चुकानी पड़ी। लड़की के भाई ने अपने दोस्तों के साथ मिलकर युवक की बेरहमी से पिटाई कर दी। घायल युवक को अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां इलाज के दौरान युवक की मौत हो गयी। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में खुलासा हुआ कि युवक की मौत पेट में अंदरूनी चोट लगने की वजह से हुई है। 

पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर लड़की के भाई समेत पांच आरोपियों को पकड़ लिया। जिसमेें तीन नाबालिग हैं। पुलिस आरोपियों से पूछताछ कर रही है। शुरूआती जांच में पता चला है कि आरोपियों ने एक लड़की को लेकर झगड़ा होने की बात कही है। उनके मुताबिक लड़की के भाई को उनका मिलना जुलना और बात करना पसंद नहीं था। उसने कई बार राहुल को मना किया था। इस बात को लेकर उनके बीच झगड़ा भी हुआ था। 

हालांकि परिवार वालों ने इससे इंकार किया है। बृहस्पतिवार रात करीब 12 बजे पुलिस को बाबू जगजीवन राम अस्पताल से एक युवक के अचेत अवस्था में अस्पताल में भर्ती होने की सूचना मिली। युवक की पहचान मूलचंद कालोनी निवासी राहुल राजपुत के रूप में हुई। इलाज के दौरान ही राहुल की देर रात मौत हो गयी। पुलिस ने शव को कब्जे में कर उसे पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। उसके शरीर के बाहरी हिस्से में कोई चोट का निशान नहीं थे।

 पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टरों ने बताया कि पेट में अनदरूनी चोट लगने से राहुल की मौत हुई है। पुलिस ने राहुल के चाचा धर्मपाल के बयान पर हत्या का मामला दर्ज कर लिया। जांच के दौरान पुलिस ने आरोपी के फोन नंबर के जरिए पहचान कर जहांगीरपुरी इलाके में रहने वाले पांच आरोपियों को पकड़ लिया। जिसमें से तीन नाबालिग हैं। पुलिस आरोपियों से पूछताछ कर रही है। पढऩे के साथ साथ राहुल बच्चों को अंग्रेेजी का ट्यूशन देता था राहुल अपने पिता संजय, मां रेणुका और छोटी बहन के साथ रहता था। संजय रोहिणी सेक्टर 18 में टैक्सी स्टैंड चलाता है। संजय ने पुलिस को बताया कि राहुल प्राइवेट से सेकेंड ईयर की पढ़ाई करने के साथ साथ बच्चों को अंग्रेजी का ट्यूशन भी देता था।

 सीसीटीवी में कैद हुई पूरी घटना जांच में यह बात सामने आयी है कि बुधवार रात राहुल के चाचा के लड़के गोलू के फोन पर अनजान नंबर से फोन आया। फोन करने वाले ने बताया कि उन्हें अपने बच्चे को ट्यूशन दिलाना है। इसलिए राहुल को बाहर भेज दें। राहुल किसी को बताए बिना घर से बाहर गली में आ गया। सीसीटीवी कैमरे में दिख रहा है कि बाहर मौजूद चार पांच आरोपी उसे अपने साथ ले गये और गली नंदा रोड पर उसकी लात घूंसों से पिटाई शुरू कर दी। आरोपियों ने उसके कपड़े फाड़ दिये। उसके बाद घायल राहुल किसी तरह से घर आते हुए दिखायी दे रहा है। 

उसकी मां ने बताया कि घर आने के बाद राहुल को हल्दी वाला दूध पीने को दिया। उसको लगातार उल्टी हो रही थी। सांस लेने में दिक्कत होने पर उसे अस्पताल में भर्ती कराया। इलाके में तनाव को देखते हुए पुलिसबल तैनात घटना को लेकर इलाके में भय और तनाव का माहौल है। जिसको देखते हुए इलाके में भारी पुलिस बल को तैनात कर दिया है। किसी भी बाहरी लोगों को देखते ही पुलिस उनसे पूछताछ कर रही है तभी उन्हें इलाके में जाने की अनुमति दे रही है।

From around the web