Lok Sabha में Congress पर जमकर बरसे PM मोदी, इशारों-इशारों में जवाहर लाल नेहरू पर बोला हमला

 


नई दिल्ली। गुरुवार को लोकसभा में धन्यवाद प्रस्ताव पर प्रधानमंत्री मोदी ने स्पष्ट कहा की नागरिकता संसोधन कानून से किसी की नागरिकता नहीं जायेगी। मोदी ने विपक्ष पर नागरिकता कानून से भ्रम फैलाने का आरोप लगाते हुए कहा की सीएए से किसी को कोई नुकसान नहीं होगा। 100 मिनट तक चले भाषण में मोदी ने अधिकतर नागरिकता संसोधन कानून पर बात की। मोदी ने कांग्रेस तथा विपक्ष पर इस कानून को लेकर काल्पनिक भय पैदा करने और पाकिस्तान की भाषा बोलने का आरोप लगाया और कहा कि भारत के मुसलमानों को गुमराह करने के लिए पाकिस्तान ने हर खेल खेला। 

यह खबर भी पढ़ें:​ कांग्रेस नेताओं के बयान पर मोदी बोले- आपके लिए गांधी ट्रेलर, हमारे लिए जिंदगी हैं

अब उसकी बात नहीं बढ़ पा रही तो लोगों ने जिनको सत्ता के सिंहासन से घर भेज दिया वे उसी की भाषा बोल रहे हैं। मोदी ने प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू का बिना नाम लिए हमला बोला। उन्होनें मुख्य विपक्षी दल को 1947 में देश के बँटवारे के लिए जिम्मेदार ठहराते हुये कहा “किसी को प्रधानमंत्री बनना था इसलिए हिंदुस्तान के ऊपर एक लकीर खींची गयी और देश का बँटवारा कर दिया गया।” 

यह खबर भी पढ़ें:​ एक बार फिर बढ़ी गणेश आचार्य की मुश्किलें, पुलिस ने शुरू की जांच

उनका इशारा पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू की तरफ था। उन्होनें आगे कहा- कांग्रेस को 1984 के सिख दंगे याद हैं? क्या वे अल्पसंख्यक नहीं थे। दंगे भड़काने के आरोपियों को मुख्यमंत्री बना देते हैं। विधवाओं को न्याय के लिए तीन-तीन दशक तक इंतजार करना पड़ा। क्या वे अल्पसंख्यक नहीं हैं। क्या अल्पसंख्यक के लिए दो-दो तराजू होंगे?” लोकसभा में राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव पर बहस के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा और कई बड़े मुद्दों पर बेबाकी से अपनी राय रखते हुए कांग्रेस नेताओं को आड़े हाथों लिया और जमकर निशाना साधा। 

जयपुर में प्लॉट मात्र 289/- प्रति sq. Feet में  बुक करें 9314166166

 

From around the web