प्रदेश में बंदूक बनाने के कारखाने का भांडाफोड़, बड़ी मात्रा में हथियार सहित दो लोग गिरफ्तार

 


कोलकाता। कोलकाता पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) ने मालदा जिला पुलिस के साथ मिलकर कालियाचक थाना क्षेत्र में हथियार बनाने के कारखाने का भांडाफोड़ किया है। मौके से दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है जिनकी पहचान 32 वर्षीय मोहम्मद आजम और मोहम्मद फारूक आलम (32) के तौर पर हुई है। दोनों ही मूल रूप से बिहार के मुंगेर के रहने वाले हैं और बंदूक बनाने में एक्सपर्ट हैं।

इस बारे में रविवार सुबह एसटीएफ की उपायुक्त आईपीएस अपराजिता रॉय ने "हिन्दुस्थान समाचार" को बताया कि 23 जनवरी यानी नेताजी की जयंती के दिन पुख्ता सूचना मिलने के बाद कोलकाता पुलिस की टीम, एसटीएफ के अधिकारियों और कालियाचक थाने के जवानों को साथ लेकर बंदूक कारखाने में छापेमारी की गई। यहां से इंप्रोवाइज 7 एमएम सेमी ऑटोमेटिक पिस्टल, सात अर्ध निर्मित इंप्रोवाइज्ड 7 एमएम सेमी ऑटोमेटिक पिस्टल और लेथ मशीन समेत बंदूक बनाने के कई अन्य सामान जब किए गए हैं।

इस घटना में आर्म्स एक्ट के साथ-साथ अन्य गैर जमानती धाराओं के तहत मामले दर्ज कर लिए गए हैं। मकान का मालिक फरार है। उसकी तलाश तेज कर दी गई है। स्थानीय सूत्रों ने बताया है कि जिस व्यक्ति के घर में यह काम चल रहा था वह सत्तारूढ़ पार्टी तृणमूल कांग्रेस से जुड़ा हुआ है। कारखाने को सील कर दिया गया है और आर्म्स एक्ट की धाराओं के तहत मामले दर्ज कर कानूनी कार्रवाई शुरू की गई है। 

यह खबर भी पढ़े: जाह्नवी कपूर की 'गुड लक जैरी' की शूटिंग पटियाला के लोगों ने रोकी, बोले- जब तक नए कृषि कानून रद्द नहीं होते...

यह खबर भी पढ़े: Bird Flu: WHO ने कहा- ठीक से पका चिकन, अंडे खाने से कोई खतरा नहीं, और बरते ये सावधानियां

From around the web