नारायणपुर: नक्सलियों ने आदिवासी समाज प्रमुखों को मौत की सजा का फरमान किया जारी, इलाके में दहशत

 


नारायणपुर। जिले के छोटेडोंगर में कल रात्रि बैनर और पर्चा लगाकर नक्सलियों की आमदाई एरिया कमेटी ने चार आदिवासी समाज प्रमुखों पर खनन कंपनी को मदद करने का आरोप लगाते हुए सामाजिक बहिष्कार करने तथा जन अदालत में मौत की सजा देने का फरमान जारी किया है। इससे छोटेडोंगर के इलाके में दहशत व्याप्त है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार अंधेरीआमदाई घाटी के खदान को लेकर नक्सली पिछले दो दशक से विरोध जता रहे हैं। खदान तक पहुंच मार्ग बनाने गए ठेकेदारों और सुपरवाइजरों को पूर्व में मारपीट कर भगा दिया था। निको कंपनी के वाहनों को आग के हवाले भी किया जा चुका है। वहीं नक्सलियों ने छोटे डोंगर के लौह अयस्क खनन के लिए कार्य कर रही निको कंपनी की मदद करने वाले छोटे डोंगर हल्बा समाज अध्यक्ष तिलन बेलसरिया, हल्बा समाज अध्यक्ष अशोक नाग, राउत समाज अध्यक्ष तिलसू, कलार समाज अध्यक्ष धौड़ाई के नारायण नाग और छोटे डोंगर के सागर साहू को समाज से इनका बहिष्कार कर जन अदालत में मौत की सजा देने का फरमान जारी किया है।

बस्तर आई जी सुंदर राज पी ने आदिवासी समाज के चार प्रमुखों के नाम पर नक्सलियों के आमदाई एरिया कमेटी के नाम पर पर्चा मिलने की पुष्टि करते हुए कहा कि इसकी जांच की जा रही है।

यह खबर भी पढ़े: रेल मंत्रालय ने पंजाब किसान आंदोलन के मद्देनजर इन ट्रेनों को आगामी 4 नवंबर तक किया रद्द

यह खबर भी पढ़े: देश में हर 10 व्यक्ति में एक कोरोना संक्रमित, तीन दिन से सक्रिय मामलों में आ रही लगातार गिरावट

From around the web