बिहार के पेट्रोल पंप पर भी मिलने लगा विश्व स्तरीय प्रीमियम ग्रेड पेट्रोल एक्सपी-100

 


बेगूसराय। भारतीय वैज्ञानिकों द्वारा स्वदेशी तकनीक के माध्यम से विकसित और इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन द्वारा उत्पादित विश्व स्तरीय प्रीमियम ग्रेड के पेट्रोल एक्सपी-100 की बिक्री अब बिहार और झारखंड में भी शुरू हो गई है। उच्च गुणवत्ता वाले इस पेट्रोल का उत्पादन करने वाली देश की दूसरी रिफाइनरी बरौनी के कार्यपालक निदेशक सह रिफाइनरी प्रमुख शुक्ला मिस्त्री ने बेगूसराय के जुबली पंप पर रिटेल मार्केटिंग का शुभारंभ किया।

शुभारंभ करते हुए शुक्ला मिस्त्री ने कहा कि पेट्रोल के क्षेत्र में यह सर्वोत्तम प्रोडक्ट है। इसके उपयोग से उच्चस्तरीय कारों और बाइक की क्षमता बढ़ जाती है। भारत में मथुरा रिफाइनरी के बाद बरौनी रिफाइनरी ने ही उत्पादन कर बिक्री के लिए मार्केटिंग डिवीजन को उपलब्ध कराया है। इसके बाद बेगूसराय सहित बिहार एवं झारखंड के पांच शहरों में ग्राहकों के लिए उपलब्ध कराया गया है।

बता दें कि भारतीय वैज्ञानिकों द्वारा विकसित स्वदेशी तकनीक के माध्यम से ऊर्जा समाधानों को विकसित किया जाना प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के ऊर्जा के क्षेत्र में आत्मनिर्भर भारत की दिशा में एक बेहतरीन कदम है। एक्सपी-100 जैसा विश्वस्तरीय उत्पाद यह साबित करता है कि भारत सभी को बेहतर ऊर्जा समाधान भी प्रदान करने की दिशा में समान रूप से ध्यान केंद्रित कर रहा है। एक्सपी-100 एक अति आधुनिक और प्रीमियम उत्पाद है जो एक अलग अनुभव देने के लिए डिजाइन किया गया है। यह वाहन को उच्च शक्ति और क्षमता तथा आनंदमय ड्राइव देने के लिए पेट्रोल का बेहतरीन ग्रेड है।

इंडियन ऑयल अनुसंधान एवं विकास (आरएंडडी) द्वारा विकसित स्वदेशी ऑक्टोमैक्स (OCTAMAX) तकनीक का उपयोग करके एक्सपी-100 प्रीमियम ग्रेड पेट्रोल का उत्पादन किया गया है। वर्तमान में भारत में बिकने वाले सामान्य पेट्रोल में 91 ऑक्टेन होता है। 100 ऑक्टेन के साथ इंडियन ऑयल का प्रीमियम ग्रेड पेट्रोल, इंजन को और अधिक गतिशील करने, तेज गति प्रदान करने, इंजन की क्षमता को बढ़ाने, बेहतर वाहन चालन अनुभव देने और ईंधन बचाने तथा इंजन की लाइफ को बढ़ाने के लिए डिजाइन किया गया है।

यह पेट्रोल IS-2796 विनिर्दिष्ट मानकों से अधिक क्षमता युक्त है और बहुत कम टेलपाइप उत्सर्जन के साथ पर्यावरण के भी अनुकूल ईंधन है। दुनिया भर में हाइ-एंड वाहनों का एक खास बाजार है, जो 100 ऑक्टेन वाले उच्च पेट्रोल की मांग करता है और यह अब तक केवल जर्मनी, अमेरिका जैसे छह देशों में ही उपलब्ध था। लेकिन अब भारत में भी इंडियन ऑयल द्वारा इसका उत्पादन कर बिक्री शुरू कर दिया गया है।

यह खबर भी पढ़े: शिक्षक की भटकी नियत: ट्यूशन टीचर ने नाबालिग छात्रा से की छेड़छाड़, अश्लील फिल्मे दिखाई और फिर...

यह खबर भी पढ़े: चुनाव आयोग की फुल बेंच 20 जनवरी को आ रही है बंगाल, राज्य में कानून व्यवस्था पर करेंगे अहम बैठक

From around the web