भागलपुर में 10 केंद्रों पर कोरोना वैक्सीनेशन का काम शुरू, डॉ सुमित चौहान को लगाया पहला कोरोना वैक्सीन

 


भागलपुर। जिले के 10 केंद्रों पर शनिवार को कोरोना के वैक्सीनेशन का काम शुरू हो गया। जिले में सबसे पहला टीका मंगलम सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल के डॉ सुमित चौहान को दिया गया। शहर के मंगलम सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल में टीका लगाने के लिए सुबह 10 बजे से ही लोग पहुंचने लगे थे। टीका लेने पहुंचे लोगों के मन में थोड़ा डर था। लेकिन डॉ. सुमित चौहान ने पहला टीका लेकर सभी के मन में पल रहे परेशानी को दूर कर दी।

डॉ. सुमित ने कतार में बैठे लोगों टीका लगाने की सलाह दी। जवाहरलाल नेहरू चिकित्सा महाविद्यालय अस्पताल में इसकी शुरूआत सुबह 11 बजे प्राचार्य डॉ हेमंत कुमार ने किया। इधर सदर अस्‍पताल में देव अशीष पांडेय को पहला टीका लगाया गया। वे अस्पताल में डाटा ऑपरेटर के पद पर कार्यरत हैं।

चर्च रोड स्थित रक्षिता नर्सिंग होम में गोराडीह स्वरूप चक निवासी आलोक कुमार राज को वैक्सीन का पहला टीका दिया गया। आलोक डॉ एसपी सिंह का कंपाउंडर हैं। टीका डॉ अजय कुमार की निगरानी में नर्स अंजू ने दिया। आलोक ने कहा कि कोरोना से बचाव के लिए वैक्सीन लेना जरूरी है। वैक्सिन पड़ने के बाद कोई परेशानी नहीं हुई। कोई दिक्कत नहीं हुई है। जनरल इंजेक्शन की तरह ही वैक्सिन का टीका महसूस हुआ। दूसरा टीका अनीता देवी को पड़ा। उन्‍होंने भी ।5 मिनट बाद तक कोई परेशानी नहीं होने की बात कही। वह आशा के पद पर कार्यरत हैं।

इस मौके पर डॉ सीमा, स्वास्थ्य विभाग के जिला लेखा प्रबंधक विकास कुमार सहित नर्सिंग होम स्टाफ, सदर अस्पताल की छह नर्स आदि स्वास्थ्य कर्मी मौजूद थे। जगदीशपुर समुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में पहला टीका एएनएम अर्चना कुमारी को दिया गया। टीका लेने के बाद अर्चना कुमारी ने बताया कि मुझे गर्व है कि पहला टीका मुझे लगा। साथ ही उन्होंने बताया कि टीका लेने के बाद किसी भी तरह से कोई परेशानी महसूस नहीं हो रही है। बता दें कि जिले में जवाहर लाल नेहरू मेडिकल कॉलेज, सदर अस्पताल, सीएचसी सबौर, सीएचसी जगदीशपुर, अनुमंडल अस्पताल नवगछिया, पीएचसी नारायणपुर, रेफरल अस्पताल नाथनगर व सुल्तानगंज के साथ निजी अस्पताल रक्षिता नर्सिंग होम, मंगलम अस्पताल को कोरोना वैक्सीनेशन केंद्र बनाया गया है।

यह खबर भी पढ़े: भाजपा ने उत्तर प्रदेश विधान परिषद चुनाव के लिए छह उम्मीदवारों की जारी की सूची

यह खबर भी पढ़े: इंडो चाइना स्टैंड ऑफ के दौरान सेना ने करिश्माई काम करके देश का मस्तक किया ऊंचा : राजनाथ

From around the web